हलवा

खसखस का हलवा

Posted on

सामग्री cookbook010204

1. खसखस (पोस्तादाना )-आधा कप

2. बादाम –दस पन्द्रह

3. देसी घी –आधा कप

4. चीनी –आधा कप

5. किशमिश –दस बारह

6. दूध –ढाई कप

विधि

· खसखस को रात भर पानी में भिगो दें बादाम को भी भीगा दें

· सुबह खसखस को पीस लें और बादाम के छिलके उतर लें

· कड़ाही में घी गर्म करें खसखस और बादाम का पेस्ट डाल कर भूनें

· अब इसमें चीनी और दूध डालकर लगातार चलती रहें

· जब दूध सूख जाये तो किशमिश डाल कर आंच से उतार लें और गर्म गर्म परोसे

आटे का हलवा

Posted on Updated on

सामग्री 524-atteKaHalwa

1. आटा छना हुआ –एक कप

2. घी -एक कप

3. चीनी –एक कप

4. किशमिश –दस बारह

5. इलाइची पाउडर –दो चुटकी

6. बादाम –पांच छह

7. पानी –ढाई कप

विधि

· कड़ाही में घी गर्म करें अब आटे को ब्राउन होने तक भूनें

· भून जाने पर इसमें चीनी और पानी मिलाएं और लगातार चलती रहें

· बादाम ,किशमिश और इलाइची मिला कर गर्म गर्म परोसे

केसर मूंग दाल का हलवा

Posted on Updated on

सामग्री

1. मूंग दाल (धुली हुई )-एक किलो 01_2012-kk1061

2. चीनी –एक किलो

3. देसी घी –एक किलो

4. खोया –आधा किलो

5. सूजी –एक बड़ा चम्मच

6. पानी (गुनगुना)-एक लीटर

7. इलाइची पाउडर –दो चुटकी

8. बादाम –आठ दस

9. केसर –थोड़ा सा दूध में भिगोया हुआ

10. चांदी का वर्क

विधि

· दाल को दो घंटे के लिए पानी में भिगो दें पानी से निकाल कर पीस लें

· पिसी दाल को आधा किलो घी मिला कर कड़ाही में रखें

· आंच पर रख कर लगातार चलती रहें और सूजी मिलाये

· जब मिश्रण गाढ़ा होने लगे तो बाकि बचा घी भी डाल दें और खूब भूनें

· अब इसमें खोया मिलाएं चीनी,केसर और पानी डालकर चलायें और पानी सूखने तक भुने

· अब आँच से उतार कर मेवे डाल कर गर्म गर्म परोसें

मक्के का हलवा

Posted on Updated on

सामग्री images.jpghlhl

1. भुने मक्के का आटा –एक कप

2. चीनी –एक कप

3. दूध –डेढ़ कप

4. देसी घी –एक बड़ा चम्मच

5. बादाम –सात आठ

विधि

कड़ाही में घी डालकर मक्के के आटे को हल्का भून लें अब इसमें चीनी दूध डालें और चीनी के घुल जाने तक पकाएं अब आँच से उतार कर बादाम डालें और गर्म गर्म परोसें (ये सर्दियों में खाए जाने वाला पौष्टिक हलवा है )

हरे चने का हलवा

Posted on

सामग्री images (3)

1. ताजा हरा चना –दो सौ पचास ग्राम

2. देसी घी –दो सौ पचास ग्राम

3. दूध –एक कप

4. चीनी –दो सौ पचास ग्राम

5. किशमिश –आठ दस

6. बादाम –आठ दस

7. इलाइची पाउडर –दो चुटकी

विधि

· हरे चने को पीस लें

· कड़ाही में घी और हरे चने के पेस्ट को मिलाकर गर्म करें

· मध्यम आँच पर भुने और दूध और चीनी मिलाएं

· दूध सूखने तक भूनें अब आँच से उतार कर मेवे और इलाइची मिलाकर गर्म गर्म सर्व करें

मीठे कद्दू का हलवा

Posted on Updated on

cookbook012312

सामग्री

1. पका कद्दू –एक किलो (कद्दूकस किया )

2. देसी घी –डेढ़ कप

3. चीनी –डेढ़ कप

4. दालचीनी पाउडर –एक चौथाई चम्मच

5. खोया –ढाई सौ ग्राम(भुना हुआ )

6. किशमिश –आठ दस

विधि

एक गहरे बर्तन में घी और कद्दू मिला कर आँच पर रखे और खूब भूनें अब इसमें भुना खोया मिलाएं और भूनें फिर चीनी मिला कर भूनें अब इसमें दालचीनी और सूखे मेवे मिला कर गर्म गर्म परोसें

लौकी का हलवा

Posted on Updated on

cookbook012312

सामग्री

1. लौकी –एक किलो

2. चीनी –ढाई सौ ग्राम

3. मावा(खोया)-ढाई सौ ग्राम

4. इलाइची –चार पांच

5. बादाम –आठ दस (भीगे और छिले)

6. किशमिश –दस दाने

7. देशी घी –चार सौ ग्राम

विधि

· लौकी को छिल कर अच्छी तरह धो लें और कद्दूकस कर लें

· अब भारी तले वाले पैन में लौकी और चीनी एक साथ मिलाकर मध्यम आँच पर पानी सूखने तक पकाएं और लगातार चलती रहें (इतना भी नही सूखे की पैन से चिपकने लगे )

· अब खोये को मैश करके डालें और अच्छी तरह मिलाये

· अब देशी घी और सारे मेवे डालकर खूब अच्छी तरह भुने इलाइची डालें और आँच से उतार कर ठंडा कर सर्व करें

भरवाँ गज़ल –

Posted on Updated on

कई दिन हो गए मुझे ब्लॉग लिखते हुए … पहली बार कुछ लिखना शुरू किया था मैंने … पोस्ट करने के बाद हर बार मेरी नज़र ब्लॉग के स्टेटस पर जाती है … उत्सुकता होती है कि मुझे कितने लोगों ने पढ़ा … कल जब मेरे पाठक बहुत कम हो गए…ग्राफ सीधे नीचे गोता लगा गया था कल …. तो सोचा आज क्यों न कोई नयी और अनूठी रेसिपी पेश करूँ… कुछ मित्रों की शिकायत थी कि आप विधि तो बताती हैं पर कभी बना कर खिलाइये भी … तो आज पेश है आपको एक तैयार रेसिपी – स्वाद लें (पसंद आये तो आशीष भी दें)

भरवाँ गज़ल –

सामग्री-
1. केसरिया जज़्बात
2. प्यार की चाशनी
3. तीखी यादें
4. आंसुओं का नमक
5. एहसास की खुशबू
6. मिजाज़ का खट्टा
इन सब को मिला कर दिल हौले हौले भरें और गम की मद्धम आंच पर पकाएं … और ठंडा होने से पहले ही सर्व करें … (नोट- ये रेसिपी दिलजलों की बस्ती में बड़ी चाव से इस्तेमाल की जाती है….)
आप को नज़र है नोश फरमाएं—
तनहाइयों का सिलसिला ये कैसा है
गर वो मेरा है तो फासला ये कैसा है

तुम न आओगे कभी ये मै जानती हूँ
फिर तेरी यादो का काफिला ये कैसा है

कभी नाचती थी खुशियाँ मेरे आंगन में
अब उदासियों का मरहला ये कैसा है

देख लूँ उसको तो दिल को सुकूं आये
मुझे जान से प्यारा दिलजला ये कैसा है

एहसास हो जायेगा मेरे जज़्बात का तुझको
देख मेरी आँखों में ज़लज़ला ये कैसा है

न इश्क ही जीता और न दिल ही हारा
वफ़ा की राह में मेरा हौसला ये कैसा है

हौसला तुझमे भी नहीं है जुदा होने का
दूर हो कर भी भला मामला ये कैसा है
(ये मेरी पहली गज़ल है …. अगर पसंद आये तो हौसला दें)

गाजर का हलवा

Posted on Updated on

गाजर का हलवा (दो लोगों के लिए)
पकाने का समय – १० मिनट
सामग्री –
१- चार कप – लाल गाजर कसी हुई
२- दो कप – मलाई रहित दूध (टोंड)
३- दो चम्मच (टीस्पून) – घी
४- तीन चम्मच – खोया (मावा)
५- तीन चार किशमिश
६- एक चम्मच छोटी इलायची (पीसी हुई)
७- एक चम्मच बादाम , काजू
८- 15-20 चम्मच शुगर (या स्वादानुसार)
विधि –
• एक नॉन स्टिक पैन में घी गरम करें और उस में गाजर को धीमी आंच पर लगभग दो से तीन मिनट तक पकाएं.
• दूध डालिए और चलाते रहिये जब तक वो भाप बन कर उड़ नहीं जाता
• खोये को मसल कर गाजर मिश्रण में मिलाएं
• शुगर डालिए और चलाना जारी रखिये जब तक मिश्रण थोडा गाढ़ा नहीं हो जाता
• पीसी हुई इलायची, बादाम और किशमिश से सजा कर गरम गरम सर्व करिये.