सलाद

होम मेड विनिग्रेट

Posted on Updated on

web1_0419_ROC_TRB_Dressing_t300

सामग्री  
1. एक्सट्रा वर्जिन ऑलिव ऑइल -1/4 चम्मच
2. नीबू का रस -1/4 चम्मच
3. ओरेगेनो या मिंट लीव्स -1/2 टी स्पून (बारीक कटी हुई)
4. लहसुन –दो कलियाँ (महीन कटी हुई )
5. चीनी -1/2 चम्मच
6. काली मिर्च -1/4 चम्मच
7. नमक –स्वाद अनुसार

विधि
सभी सामग्री को अच्छी तरह मिक्स कर ले और आधे घंटे के लिए छोड़ दें और ड्रेसिंग के लिए यूज़ करें
नोट –आप इसमे अपने टेस्ट के अनुसार पीसी सरसों के दाने ,नीबू की जगह विनेगर और खुशबू  के लिए कोई भी हर्ब्स डाल सकते है   

बीन्स स्प्राउट सैलेड (अंकुरित सलाद)

Posted on Updated on

img_20160120_140546_1453279149550

सामाग्री-
1. अंकुरित बीन्स –एक कप (मूंग,चना या जो बीन्स आप को पसंद हो)
2. शिमला मिर्च (पीली,हरी और लाल)-आधा कप(कटी हुई)
3. टमाटर –आधा कप (बारीक कटा हुआ)
4. सफ़ेद गोल मिर्च पाउडर –आधा टी स्पून
5. नमक –स्वादानुसार
6. पत्ता गोभी –आधा कप (बारीक लम्बी कटी हुई )

विधि-

सारी सामग्री को मिलकर विनिग्रेट ड्रेसिंग के साथ सर्व करें

ब्रोंकली सेलेद (ब्रोंकली का सलाद)

Posted on Updated on

सामग्री
1. ब्रोंकली -400 ग्राम (टुकड़ो मे कटी)
2. ऑलिव ऑइल –एक चम्मच
3. सफ़ेद गोल मिर्च पाउडर –आधा टी स्पून
4. नमक –स्वादानुसार
विधि
एक बाउल मे सभी सामग्री को अच्छे से मिला लें और सर्व करें IMG_20160120_140557_1453279113631

लोटस स्टेम सैलेड (कमल ककड़ी का सलाद )

Posted on Updated on

lotusroot3_thumb.jpg

सामग्री
1. कमल ककड़ी -250 ग्राम
2. शिमला मिर्च पीली,लाल और हरी –एक कप (बारीक कटी हुई)
3. टोमैटो केचअप –दो बड़े चम्मच
4. नमक –स्वादानुसार
5. लाल मिर्च पाउडर –चुटकी भर
6. सफ़ेद गोल मिर्च पाउडर –आधा टी स्पून

विधि
· कमल ककड़ी को छीलकर तिरछा पतला पतला काट लें और अच्छी तरहा धो लें मिट्टी ना रहे
· फिर उसे नमक मिले पानी मे उबाल लें और ठंडा कर लें
· अब उबली कमल ककड़ी मे बाकी सामग्री मिला ले और सर्व करें

रशियन सेलेड

Posted on Updated on

सामाग्री IMG_20160120_140625_1453279023050

1. हरी मटर –आधा कप (उबली हुई)
2. गाजर –आधा कप (कटी और उबली हुई)
3. आलू –एक छोटा (उबला और कटा हुआ)
4. सेब –आधा कप (छोटे टुकड़ो मे कटा हुआ)
5. अन्नानास –आधा कप (टुकड़ो मे कटा हुआ)
6. शिमला मिर्च –आधा कप (टुकड़ो मे कटी और उबली हुई)
7. मेयोनीज़ –एक बड़ा चम्मच
8. नमक –स्वादानुसार
9. सफ़ेद गोल मिर्च पाउडर –आधा टी स्पून

विधि
सभी सामाग्री को एक साथ मिला कर सर्व करें

बीन सलाद

Posted on Updated on

vlcsnap-2016-01-20-14h03m54s243

सामाग्री-

1. राजमा –एक कप (उबले हुये)
2. लीमा बीन्स (सेम का बीज)-आधा कप (उबला हुआ)
3. लोबिया –आधा कप (उबला हुआ )
4. प्याज –एक छोटा(बारीक कटा हुआ)
5. हरा प्याज-एक (बारीक कटा हुआ)
6. हरी मिर्च –दो (बारीक कटी हुई)
7. लहसुन –दो कली (भुनी और कटी हुई)
8. डाइट मेयोनेज –एक चम्मच
9. नमक –स्वादानुसार
10. काली मिर्च –एक टी स्पून
11. तेल –एक छोटा चम्मच (ऑलिव आयल,या कोई भी रिफाइंड ऑइल)
12. सेलरी –एक चम्मच (बारीक कटी हुई)

विधि
• सभी बीन्स को रात भर भिगो कर सुबह नमक डालकर उबाल लें
• अब पानी से निकाल कर अलग रख दें
• अब एक पैन मे तेल गर्म करें
• इसमे सेलरी और लहसुन डालकर भुने
• अब इसमे बीन्स डालकर थोड़ा (एक मिनट)भुने और ठंडा करने के लिए रख दें
• ठंडा होने के बाद इस बीन्स मे मेयोनीज़ और प्याज़ डालकर सर्व करें

भरवाँ गज़ल –

Posted on Updated on

कई दिन हो गए मुझे ब्लॉग लिखते हुए … पहली बार कुछ लिखना शुरू किया था मैंने … पोस्ट करने के बाद हर बार मेरी नज़र ब्लॉग के स्टेटस पर जाती है … उत्सुकता होती है कि मुझे कितने लोगों ने पढ़ा … कल जब मेरे पाठक बहुत कम हो गए…ग्राफ सीधे नीचे गोता लगा गया था कल …. तो सोचा आज क्यों न कोई नयी और अनूठी रेसिपी पेश करूँ… कुछ मित्रों की शिकायत थी कि आप विधि तो बताती हैं पर कभी बना कर खिलाइये भी … तो आज पेश है आपको एक तैयार रेसिपी – स्वाद लें (पसंद आये तो आशीष भी दें)

भरवाँ गज़ल –

सामग्री-
1. केसरिया जज़्बात
2. प्यार की चाशनी
3. तीखी यादें
4. आंसुओं का नमक
5. एहसास की खुशबू
6. मिजाज़ का खट्टा
इन सब को मिला कर दिल हौले हौले भरें और गम की मद्धम आंच पर पकाएं … और ठंडा होने से पहले ही सर्व करें … (नोट- ये रेसिपी दिलजलों की बस्ती में बड़ी चाव से इस्तेमाल की जाती है….)
आप को नज़र है नोश फरमाएं—
तनहाइयों का सिलसिला ये कैसा है
गर वो मेरा है तो फासला ये कैसा है

तुम न आओगे कभी ये मै जानती हूँ
फिर तेरी यादो का काफिला ये कैसा है

कभी नाचती थी खुशियाँ मेरे आंगन में
अब उदासियों का मरहला ये कैसा है

देख लूँ उसको तो दिल को सुकूं आये
मुझे जान से प्यारा दिलजला ये कैसा है

एहसास हो जायेगा मेरे जज़्बात का तुझको
देख मेरी आँखों में ज़लज़ला ये कैसा है

न इश्क ही जीता और न दिल ही हारा
वफ़ा की राह में मेरा हौसला ये कैसा है

हौसला तुझमे भी नहीं है जुदा होने का
दूर हो कर भी भला मामला ये कैसा है
(ये मेरी पहली गज़ल है …. अगर पसंद आये तो हौसला दें)